कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन 2022: Kusum Yojana Registration, फ्री में लगवाए सोलर पैनल पीएम dkstudy.in

कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन 2022: Kusum Yojana Registration, फ्री में लगवाए सोलर पैनल पीएम dkstudy.in

Kusum Yojana 2022

Kusum Yojana के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा 17.5 लाख डीज़ल पम्पो और 3 करोड़ खेती उपयोगी पम्पस को आगे आने वाले 10 वर्षो में सोलर पम्पस में परिवर्तित किये जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। ये राजस्थान के किसानो के लिए महत्वपूर्ण योजना है । सरकार द्वारा राज्य के किसानो के खेतो में सोलर पंप लगाने और सोलर उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए प्रारंभिक बजट 50 हजार करोड़ रुपयों का आवंटन (To install solar pumps and promote solar products, an initial budget of Rs. 50 thousand crores was allocated.) किया गया है। इस योजना के अंतर्गत बजट 2020 -21 में राज्य के 20 लाख किसानो को सोलर पंप लगाने में मदद की जाएगी।

( Solar Pamp ) बिजली या डीजल की जगह सौर ऊर्जा से चलाए जाएंगे. कुसुम योजना पर कुल 1.40 लाख करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे उद्देश्य बंजर भूमि का उपयोग और किसानों की आय में वृद्धि करना है । इन्हीं योजनाओं में से एक है किसान ऊर्जा सुरक्षा और उत्थान महा अभियान यानी कुसुम । इस संबंध में भारत के कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का कहना है कि पीएम-कुसुम योजना ( PM Kusum Scheme ) के तहत 20 लाख किसानों को स्टैंडअलोन सोलर पंप दिए जाएंगे

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू, फ्री में लगवाए सोलर पैनल

PM Kusum Yojana 2022 : भारत सरकार किसानों के लिए कई विशेष योजनाएं चलाती है ।इसमें कुसुम योजना ( Kusum Yojana )है । इसका उद्देश्य बंजर भूमि का उपयोग और किसानों की आय में वृद्धि करना है । इन्हीं योजनाओं में से एक है किसान ऊर्जा सुरक्षा और उत्थान महा अभियान यानी कुसुम । इस संबंध में भारत के कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का कहना है कि पीएम-कुसुम योजना ( PM Kusum Scheme ) के तहत 20 लाख किसानों को स्टैंडअलोन सोलर पंप दिए जाएंगे ।

इस योजना से किसानों ( Farmer ) को बंजर भूमि पर सौर ऊर्जा का उत्पादन करने और अतिरिक्त ऊर्जा को ग्रिड को बेचने में मदद की जाएगी । सभी उम्मीदवार जो ऑनलाइन आवेदन करने के इच्छुक हैं, फिर आधिकारिक अधिसूचना डाउनलोड करें और सभी पात्रता मानदंड और आवेदन प्रक्रिया को ध्यान से पढ़ें । हम इस लेख के माध्यम से प्रधामंत्री कुसुम योजना ( Pradhan Mantri Kusum Yojana ) के बारे में संक्षिप्त जानकारी प्रदान करेंगे ।

पीएम कुसुम योजना का उद्देश्य

किसान ऊर्जा सुरक्षा और उत्थान अभियान (KUSUM) । कुसुम योजना के मुताबिक 2022 तक देश में तीन करोड़ पंप ( Solar Pamp ) बिजली या डीजल की जगह सौर ऊर्जा से चलाए जाएंगे. कुसुम योजना पर कुल 1.40 लाख करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे ।

इसकी स्थापना से किसानों की आय में वृद्धि होगी, जो कि पीएम-कुसुम योजना ( PM Kusum Scheme ) का उद्देश्य है । जैसा कि आप सबसे अधिक जानते हैं, भारत में ऐसे कई राज्य हैं जहां सूखा पड़ता है । और खेती करने वाले किसानों को सूखे के कारण नुकसान होता है । इसी को याद करते हुए Central Government ने पीएम कुसुम योजना की शुरुआत की है ।

कुसुम सोलर पम्प सब्सिडी योजना ( PM Kusum Solar Pamp Subsidy Scheme ) का मुख्य उद्देश्य देश के किसानों को मुफ्त बिजली उपलब्ध कराना है । इस कुसुम सोलर प्लांट सब्सिडी योजना के तहत किसानों को सिंचाई के लिए Solar Panel उपलब्ध कराए जाएं, ताकि वे अपने खेतों की ठीक से सिंचाई कर सकें । इस PMKY-पीएम कुसुम योजना से किसानों को दोगुना फायदा होगा और उनकी आमदनी में भी इजाफा होगा ।

आवश्यक दस्तावेज

पीएमकेवाई के लिए आवश्यक दस्तावेज निम्नलिखित हैं – पीएम कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन 2022 –

  • आधार कार्ड
  • बैंक खाता
  • पासवृक
  • आय प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो

PM Kusum Yojana 2022 के लाभ

पीएम कुसुम योजना ( PM Kusum Scheme ) में किसानो को रियायती दरों पर सौर सिंचाई पंप उपलब्ध कराये जाएगें । कुसुम योजना 2022 के तहत पहले चरण में 17.5 लाख डीजल से चलने वाले डीजल पंप सौर ऊर्जा ( Solar Energy ) से चलाए जाएंगे । जिससे डीजल की खपत में कमी आएगी । अब खेतों की सिंचाई करने वाले पंप सौर ऊर्जा से चलेंगे, किसानों को खेती में बढ़ावा मिलेगा ।

इस योजना से अतिरिक्त मेगावाट बिजली पैदा होगी । प्रधानमंत्री कुसुम योजना ( Pradhan Mantri Kusum Yojana ) के तहत किसानों को सोलर पैनल लगाने के लिए सरकार की ओर से 60 प्रतिशत वित्तीय सहायता दी जाएगी । और बैंक 30 प्रतिशत ऋण सहायता और किसान ( Farmer ) को 10 प्रतिशत का भुगतान करना होगा । KUSUM Yojana उन किसानों के लिए फायदेमंद होगी जहां राज्य सूखाग्रस्त होगा और जहां बिजली की समस्या है ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top